Home careers Scientist बनने की पूरी जानकारी हिंदी में | How to become a...

Scientist बनने की पूरी जानकारी हिंदी में | How to become a scientist in hindi

साइंटिस्ट बनने का सपना तो बहुत से व्यक्ति देखते हैं, परंतु साइंटिस्ट बनना हर किसी के बस की बात नहीं है, क्योंकि साइंटिस्ट बनने के लिए हमें बहुत ही ज्यादा मेहनत करनी होती है।

Scientist बनने के लिए अच्छी पढ़ाई करने के साथ-साथ व्यक्ति का दिमाग भी अच्छा होना चाहिए तभी वह साइंटिस्ट बन पाता हैl

क्योंकि आप सभी जानते हैं कि साइंटिस्ट वही होता है, जोकि नई-नई चीजों का निर्माण करता है या फिर किसी चीज की खोज करता हैl

साइंटिस्ट भी अलग अलग तरीके के होते हैं। इस पोस्ट के माध्यम से आपको साइंटिस्ट बनने का तरीका बताएंगे l

बहुत से बच्चे तो बचपन में ही सपना देख लेते हैं, कि उन्हें बड़े होकर साइंटिस्ट बनना है, परंतु अच्छा मार्गदर्शन ना मिलने के कारण वह साइंटिस्ट नहीं बन पाते।

लेकिन आज की हमारी इस पोस्ट में हम आपको साइंटिस्ट के बारे में पूरी जानकारी देंगे। इसके माध्यम से आपका यह डाउट क्लियर हो जाएगा , कि Scientist कैसे बने.

आज की पोस्ट में हम जानेंगे, कि ISRO में साइंटिस्ट कैसे बने तथा Scientist बनने के लिए क्या करे. इसी के साथ साथ हम आपको Eligibility For Become A Scientist In Hindi के बारे में भी विस्तार से बताएंगे, ताकि आप उसी हिसाब से अपनी पढ़ाई कर सकें।

यह भी जानें: teacher कैसे बने

साइंटिस्ट कैसे बने- How to become a scientist in hindi ?

How to become a scientist in hindi

साइंटिस्ट बनने की तैयारी आपको बचपन से ही करनी होती है। अगर आप बचपन से ही अपने मन में साइंटिस्ट बनने का ठान लेते हैं तो आप आसानी से साइंटिस्ट बन सकते हैं।

आपको दसवीं कक्षा तक यह फैसला करना होता है, कि आपको आगे क्या बनना हैl फिर उसी के हिसाब से आपको दसवीं के बाद सब्जेक्ट लेने होते हैं l इसलिए पहले साइंटिस्ट बनने के लिए योग्यता के बारे में जान लेते हैं।

साइंटिस्ट बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए – Eligibility for become a Scientist in hindi ?

अगर आपको साइंटिस्ट बनना है तो आपको यह निर्णय दसवीं क्लास में ही लेना होता है, क्योंकि 10वीं कक्षा के पश्चात आपको 11वीं कक्षा में ही वह सब्जेक्ट लेने होते हैं, जिनके बारे में पढ़ाई करके आपको साइंटिस्ट बनने में मदद मिलती है l

यदि आप Scientist  बनना चाहते हैं, तो 10वीं कक्षा के पश्चात ही आपको PCM ( Physics , Chemistry , Math ) या PCB ( Physics , Chemistry , Biology ) स्ट्रीम से आपको 12वीं कक्षा पास करनी होती है।

12वीं कक्षा आप को मान्यता प्राप्त विद्यालय में से करनी होती है तथा 12वीं कक्षा में आपको कम से कम 60% अंक लेकर पास होना होता है, तभी आपको आगे चलकर साइंटिस्ट बनने में आसानी होगी।

12वीं कक्षा के पश्चात आपको Physics, Mathematics, Biology, Social Science, Astronomy तथा अन्य विषय का भी चयन करके स्नातक(graduate) की डिग्री कर सकते हैं l

स्नातक की डिग्री के रूप में आप B.Tech, B.SC, B.Pharma आदि भी कर सकते हैं। परंतु स्नातक की डिग्री में भी आपके कम से कम 60% अंक होने चाहिए।

साइंटिस्ट बनने के लिए कौनसी डिग्री चाइये?

वैसे तो आप अपने दिमाग के बलबूते पर ग्रेजुएशन के पश्चात भी साइंटिस्ट बन सकते हैं l यदि आपको ठीक ढ़ंग से अच्छी नॉलेज लेकर साइंटिस्ट बनना है  तो इसके लिए आप मास्टर डिग्री भी कर सकते हैं, क्योंकि मास्टर डिग्री करने के पश्चात आपको बहुत ज्यादा नॉलेज हो जाती है।

इसी के साथ-साथ आप मास्टर डिग्री के पश्चात पीएचडी(PHD) भी कर लेते हैं, तो उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आप रिसर्च इंस्टीट्यूट ( Research Institute ) के लिए भी अप्लाई कर सकेंगे।

हम आपको बता दें, कि साइंटिस्ट बनने के लिए कोई भी आयु सीमा निर्धारित नहीं होती l किसी भी उम्र में साइंटिस्ट बना जा सकता है, बस आपके अंदर साइंटिस्ट बनने का जज्बा होना चाहिए, तो आप आसानी से साइंटिस्ट बन जाएंगे।

ISRO में साइंटिस्ट बनने के लिए क्या करे?

बहुत से छात्र का यह सवाल भी होता है, कि ISRO में साइंटिस्ट कैसे बने? आप सभी ने ISRO ( Indian Space Research Organization ) का नाम तो सुना ही होगा।

यह हमारे देश को अंतरिक्ष तथा विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का काम करता है। ISRO में काम करने वाले प्रत्येक वैज्ञानिक दिन-रात अपने देश को दूसरे देशों से आगे बढ़ाने के लिए काम करते रहते हैं।

यदि आप भी इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन ( Indian Space Research Organization) में वैज्ञानिक बनने का सपना देख रहे हैं, तो अब हम आपको नीचे How To Become Scientist In ISRO  के बारे में बता रहे हैं l

जिसके माध्यम से आपको पता चल जाएगा, कि ISRO में साइंटिस्ट किस प्रकार बना जा सकता है।

अगर आप इसरो में साइंटिस्ट बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको IIST ( Indian Institute Of Space Technology ) में एडमिशन लेना होता है। इस इंस्टीट्यूट में एडमिशन हो जाने पर ISRO उन सभी विद्यार्थियों को डायरेक्ट वैज्ञानिक के पद पर भर्ती कर लेता है, परंतु यहां तक पहुंचना आसान नहीं है।

आपको IIST में दाखिला लेने के लिए पहले 10वीं क्लास के पश्चात Math और Science विषय लेना होता है और उन्हीं में आपको 12वीं कक्षा पास करनी होती है।

फिर आपको IIST के द्वारा कराए जाने वाले Entrance exam को पास करना है। फिर यहां से आपको बीटेक की 4 साल की डिग्री लेनी है या फिर आप 5 साल का एक Dual Degree Program भी कर सकते हैं।

हम आपको बता दें, कि ISRO के द्वारा हर साल नौकरियां निकाली जाती है और जब भी नौकरी निकाली जाती हैं, तो IIST के माध्यम से जिन्होंने भी डिग्री ली हुई होती है उन्हें ISRO में नौकरियां मिल जाती हैं।

हम आपको बता दें कि Indian Space Research Organization हर साल Scientist के पदों की भर्तियों के लिए हमारे देश के Top Collages जैसे कि, Indian Institute of Technology तथा National Institute of Technology में जाते हैं और वहां पर उन्हें जो भी कैंडिडेट अच्छे लगते हैं, वह उनका इंटरव्यू लेकर उन्हें नौकरियां देते हैं।

यह भी जानें: pilot कैसे बने

ISRO में साइंटिस्ट बनने के लिए कौन-सा एग्जाम होता है?

हर साल Indian Space Research Organization के द्वारा एक परीक्षा आयोजित कराई जाती है, जिसे ICRB ( ISRO Centralized Recruitment Board ) Exam भी कहते है l इस एग्जाम को तीन कैटेगरी में बांटा गया है।

  • Mechanical
  • Electronic
  • Computer

जब आप Bachelor of Engineering, Bachelor of Science , Bachelor of Technology आदि कर लेते हैं, तो उसके पश्चात आप इस एग्जाम को दे सकते हैं।

इस एग्जाम को देने के लिए बैचलर डिग्री में आपके अंक कम से कम 65% होने चाहिए, तभी आप इस परीक्षा के लिए आवेदन दे सकते हैं और यदि आपके कॉलेज में CGPA का सिस्टम है, तो आप को कम से कम 6.84 CGPA लाना होता है।

साइंटिस्ट का क्या कार्य होता है – Work of scientist in hindi ?

विज्ञान एवं विशेषज्ञता के आधार पर साइंटिस्ट के अलग-अलग कार्य हो सकते हैं जैसे कि:-

  • प्रयोगो की योजना बनाना तथा उनका संचालन करना
  • सभी डाटा की रिकॉर्डिंग तथा उसका विश्लेषण करना।
  • सभी परिणामों को वरिष्ठ वैज्ञानिकों तथा अन्य अधिकारी छात्र के सामने पेश करना।
  • एक वैज्ञानिक शोध पत्र समीक्षा एवं सारांश लिखने का कार्य भी कर सकता है।
  • वैज्ञानिक विभिन्न प्रक्रियाओं का प्रदर्शन भी कर सकते हैं।
  • एक साइंटिस्ट उत्पाद या सामग्री परीक्षण का आयोजन करवाता है।
  • साइंटिस्ट का काम सभी गुणवत्ता मानकों को सुनिश्चित करने का होता है।
  • सभी समस्याओं के लिए मूल समाधान विकसित करना भी एक वैज्ञानिक का कार्य ही होता है।
  • एक वैज्ञानिक का काम हमेशा तकनीकी विकास के साथ अपने आप को अपडेट रखना भी होता है।

वैज्ञानिक बनने की तैयारी कैसे करें- How to Prepare to Become a Scientist in Hindi ?

हम आपको बता दें , कि सिर्फ सोच लेने से ही व्यक्ति Scientist नहीं बनता l वैज्ञानिक बनने के लिए बचपन से ही कड़ी मेहनत करनी होती है।

वैज्ञानिक बनने के लिए पढ़ाई के साथ-साथ व्यक्ति को बचपन से ही Practical training भी लेनी होती है और अपने दिमाग को उस हिसाब से बनाना होता है, कि आगे चलकर वह एक वैज्ञानिक बन सके l

अब हम नीचे आपको कुछ तरीके बता रहे हैं, जिनकी सहायता से आपको Scientist बनने में सहायता मिलेगी। इसके अतिरिक्त यदि आप अपने बच्चों को एक scientist  बनाना चाहते हैं, तो आप उन्हें बचपन से ही Training दे पाएंगे।

1. बचपन से ही पढ़ाई पर ध्यान दें

अगर आप साइंटिस्ट बनना चाहते हैं, तो आपको बचपन से ही इसकी तैयारी शुरू करनी होगी और अपनी पढ़ाई पर भरपूर ध्यान देना होगा।

जब आप 10वीं कक्षा पास कर लेते हैं, तो दसवीं के पश्चात आपको 12वीं कक्षा साइंस के विषय से करनी है और आपको 12वीं कक्षा में भी ज्यादा से ज्यादा अंक प्राप्त करने हैं।

2. प्रैक्टिकल नॉलेज हासिल करें

पढ़ाई के साथ-साथ बचपन से ही आपको Practical knowledge भी हासिल करनी चाहिए।

इसके लिए आपके स्कूल में जितने भी Science exhibition होते हैं या फिर आपके कॉलेज में Science exhibition होते हैं, तो आपको उन में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए और कुछ नया सीखने की कोशिश करनी चाहिए।

3. साइंस में रुचि

आपको scientist बनने के लिए साइंस से खूब लगाव रखना पड़ता है और दुनिया में साइंस से संबंधित जितनी भी नई इजाद हो रही हैं, उनके बारे में आपको पूरी नॉलेज होनी चाहिए।

4. टीम वर्क करना सीखें

scientist बनने के लिए आपको टीमवर्क करना भी सीखना पड़ेगा। इसीलिए बचपन से ही अपने अंदर team work की भावना रखें और मिलजुलकर कुछ नया बनाने की कोशिश करें।

Scientist की सैलरी कितनी होती है – Salary Structure Of Scientist In Hindi ?

साइंटिस्ट की सैलरी उसकी नॉलेज तथा कौशल पर निर्भर करती है। अगर किसी साइंटिस्ट को काफी अच्छी खासी नॉलेज है, तो उसकी सैलरी भी उसी हिसाब से ज्यादा होती है l

परंतु जब साइंटिस्ट बनने की शुरुआत होती है, तो शुरुआत में एक वैज्ञानिक की सैलरी ₹40000 से लेकर ₹100000 तक हो सकती है l जैसे-जैसे वैज्ञानिक अनुभव बढ़ता रहता है, वैसे ही उनकी सैलरी भी बढ़ती रहती हैं।

हम आपको बता दें, कि रिसर्च ( Research ) के क्षेत्र में आज के समय में बहुत से ऐसे साइंटिस्ट ( Scientist ) हैं, जो 1 महीने की ₹200000 से ज्यादा भी सैलरी लेते हैं।

यह भी जानें: डॉक्टर कैसे बने

निष्कर्ष – 

हम उम्मीद करते हैं, कि आपको ISRO में साइंटिस्ट कैसे बने से संबंधित हमारी यह पोस्ट काफी पसंद आई होगी।

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको साइंटिस्ट बनने के लिए क्या करे तथा Eligibility For Become A Scientist In Hindi के बारे में बताया है l

अगर अभी भी आपको हमसे How To Become Scientist In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो, तो आप Comment Section में कमेंट कर सकते हैं। धन्यवाद!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version