Home hindi story story for kids Greedy king लालची राजा बच्चों के लिए कहानी

story for kids Greedy king लालची राजा बच्चों के लिए कहानी

story for kids with moral in Hindi for kids. the Hindi story help child to learn lesson by interest ways. the story for kids with moral are written in Hindi language. story for kids gives many important lesson.

एक बार की बात है एक नगर में एक राजा रहता था, वो बहुत अमीर था ही उसके नगर में किसी चीज़ की कोई कमी नही थी, उसका राज्य सुख समृद्धि भोग रहा था. लेकिन कहते है ना की जिसके पास जितना होता है उसे वो उतना ही कम लगता है, कुछ यही स्थिति राजा की भी थी सब कुछ होने के बावजूद भी उसे लगता था की उसके पडोसी राज्यों के राजाओं के पास उससे अधिक धन है.वो हमेशा इसी कोशिश में रहता था की किस तरह वो और सोना ,चांदी,हीरे,जवाराहत,और धन इकठ्ठा करले.

ये उसकी सबसे बड़ी परेशानी बनी रहती थी, फिर भी वो अपने राज्य पर काफी ध्यान देता था ताकि उसका राज्य सभी चीजों से सम्रद्ध रहे, उसके राज्य क लोगों को किसी चीज़ की कमी ना हो. वो जनता था की अगर उसका ध्यान उसके राज्य से भटका तो उसकी प्रजा तो निराश और हताश होगी ही साथ साथ उसकी बरक्कत में गिरावट भी आ जयेगी.

और दुसरे राज्य के राजा उसका राज्य हथियाने की कोशिश में लग जयेंगे,इसलिए इन सब को ध्यान में रखते हुए वो अपने राज्य पर अच्छी खासी नजर बनाये रखता था और किसी भी प्रजा को परशानी में नही रहने देता था.

राजा का परिवार बहुत ही छोटा और खुशहाल था, राजा के परिवार में उसकी पत्नी और उसकी एक छोटी बेटी थी. राजा अपने परिवार से बहुत प्यार करता था वो अपनी बेटी को कभी भी उदास नही देख सकता था,वो हमेशा अपनी बेटी को खुश करने में लगा रहता था. उसी तरह बेटी भी राजा यानि अपने पिता से बहुत प्यार करती थी,वो हमेशा अपने पिता का कहा सुनती थी और प्रयास करती की उसके पिता को किसी भी चीज़ की चिंता ना हो.दोनों एक दुसरे के बारे में बहुत सोचते थे और प्यार भी करते थे.

थोडा समय बीता राजा की पत्नी किसी रोग की वजह से बहुत बीमार पद गयी, हतोड़े समय तक तो वो बीमार ही रही लेकिन कुछ समय बाद रानी का स्वर्गवास हो गया,अब राजा और राजकुमारी दोनों ही एक दुसरे का सहारा थे. दोनों को रानी की कमी बहुत खलती थी, लेकिन फिर भी दोनों एक दुसरे को सँभालने में लगे रहे किसी ने कभी अपन्बा दुःख एक दुसरे के सामने नही जताया.

समय बहुत बलवान होता है वो सभी घावों को भर देता है धीरे धीरे राजा और राजकुमारी दोनों रानी की याद से बाहर निकलने लगे राजा फिर से अपने राज्य की देख रेख में मशगूल हो गया और राजकुमारी भी अपनी माँ की यादों के साथ रहने लगी. राजा ने रानी की यादों को तो समेट लिया लेकिन अपनी लालच की आदत से छुटकारा नही पा सके.

राजा को फिर से वही सब सूझने लगा. बहोत सारे धन और दौलत की इच्छा, उन्हें परेशान देखकर उनके मंत्री ने उनसे इसके बारे में पूछा तो राजा ने मंत्री को बताया की वो इसलिए परेशान है क्युकी उन्हें और धन की इच्छा है. मंत्री ने उन्हें सुझाव दिया की आप एक बाबा से मिले वो आपकी परेशानी का हल अवश्य निकालेंगे .मंत्री की बात मान कर राजा बाबा से मिलने गया, वह जाकर राजा ने अपनी सारी परेशानी बाबा को बतायी, तो बाबा ने राजा को इसका उपाय भी दिया.

बाबा ने राजा को एक मंत्र दिया जिसकी शक्ति से राजा एक इच्छा पूरी करने वाली परी को बुला सकता है और उससे मन चाहा वरदान ले सकता है, इतना सब सुनकर राजा खुश होकर अपने महल वापस चला गया.उसके अगले दिन राजा ने उस मंत्र का जाप किया और बाबा के कहे अनुसार एक परी राजा के सामने प्रकट हो गयी, परी ने राजा से पूछा बताओ तं क्या चाहते हो राजा ने पहले से ही सब कुछ सोचकर रखा हुआ था,

राजा ने तुरंत परी को जवाब देते हुए कहा मैं ये चाहता हूँ की मैं जिस भी चीज़ को हाथ लगाऊं वो सोने की बन जाये, राजा की ये बात सुनकर परी ने उससे दोबारा पूछा क्या तुम सच में यही चाहते हो मुर्ख राजा ने परी को बात को अनसुना करते हुए कहा हां मैं यही वरदान चाहता हूँ. परी ने उस राजा को उसके इच्छानुसार वरदान दिया और वहा से गायब हो गयी.

परी के जाने के बाद राजा ने अपने कमरे में रखे हुए कई चीजों पर अपने वरदान को आजमाया और वही हुआ राजा जिस भी चीज़ को हाथ लगाता वो सोने की बन जाती. राजा ऐसा कर ही रहा होता है की उसकी बेटी उसके  कमरे में आ जाती है राजा अपनी ख़ुशी में भूल गया की उसने परी से क्या वरदान माँगा है,

और वो अपनी बेटी को अपनी गोद में उठा लेता है जैसे ही राजा अपनी बेटी को हाथ लगाता है वो सोने की बन जाती है. ये देखकर राजा रोने लगता है,और वो अपनी बेटी को खो देता है .

इसलिए कहा जाता है लालच करना बुरी बला है ,जो लालच करता है उसे हमेशा मूह की खानी पड़ती है .और ज्यादा के चक्कर में कुछ भी हाथ नही लगता.

the moral of story for kids

इस कहानी से हमें यह मालूम चलता है की कभी भी ज्यादा लालच नही करनी चाहिए।

the moral of story for kids is we know that we should never be tempted.

You can also read them

story for kids help kids to take the lesson. These moral stories are easier than ever to read. keep reading hindi story keep growing mind of child.

हिंदी कहानी बच्चे को रुचि के तरीकों से सबक सीखने में मदद करती है। नैतिकता वाले बच्चों की कहानी हिंदी भाषा में लिखी गई है। बच्चों के लिए कहानी कई महत्वपूर्ण सबक देती है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version