हाथी और चींटी की कहानी हिंदी में elephant and ant story in hindi

Loading...

बहुत समय पहले की कहानी (हाथी और चींटी की कहानी हिंदी में) है। किसी दूर जंगल में एक हाथी रहता था। वह हाथी काफी घमंडी था। वह जंगल के सभी जानवरो को काफी परेशान करता था। वह हाथी जंगल के राजा शेर को भी परेशान किया करता था।

वह बिना ही किसी काम के पेड़ो को उखाड़ दिया करता था। अपनी ताकत को दिखाने के लिए वह जंगल के दूसरे जानवरो पर अत्यचार करता था। जो जानवरो उसकी सलामी नहीं करता था उसका घर बर्बाद कर देता था।

एक बार यह घमंडी हाथी जंगल के पास वाले तालाब पर गया। उस तालाब के किनारे कुछ चीटिया अपना खाना एकता कर रही थी। हाथी से अपना पर पटकते हुए चीटियों से कहा, तुम लोग यहाँ क्या कर रही हो। इस पर एक चींटी ने कहा, हम अपना खाना एकता कर रहे है। ताकि वर्षा के मौसम में हम इस खाने को खा सके।

इस पर हाथी को मजा सुझा और उसने नदी से पानी अपनी नाक में भरा और तेज गति के साथ उन छोटी चीटियों के ऊपर और उनके बिल में डाल दिया। इस तरह से उन छोटी चीटियों का सारा मेहनत और भोजन ख़राब हो गया। यह देखकर हाथी जोर-जोर से हसने लगा। इस पर चीटियों को बहुत ही ज्यादा गुस्सा आ गया।

उन्होंने इस हाथी की सबक सीखने को सोचा। इसके बाद काफी चींटी हाथी की और बढ़ने लगी। यह देखकर हाथी से जोर से कहा, तुम लोग मेरा क्या कर सकती हो। चींटी हाथी के पास आई और उसके पैर से ऊपर चढ़ना शुरू कर दिया। कुछ चींटी हाथी के कान में घुस गई तो कुछ चींटी हाथी के नाक में। इसके बाद वह चींटी काटना शुरू कर दी।

अब हाथी का हाल बेहाल हो गया। वह काफी दर्द होने लगा। और वह जोर-जोर से रोने लगा। हाथी इतने तेज से रो रहा था की जंगल के दूसरे जानवर भी उसके पास आ खड़े हुए। हाथी सबसे माफ़ी मांग रहा था। और चींटी से भी माफ़ी मांग रहा था।

अब हाथी से सबक को अच्छे से सिख लिए था। इसलिए चींटी हाथी के कान और नाक से बाहर आ गई। इसके बाद हाथी ने जंगल के किसी भी जानवर को परेशान नहीं किया।

यह कहानी भी पढ़े: dhobi ka gadha aur kutta ki kahani

तो यह थी elephant and ant story in hindi यानी हाथी और चींटी की कहानी। यह कहानी (elephant and ant story in hindi) काफी छोटी तो है। लेकिन इससे हम काफी कुछ सीखने को मिलता है। बड़े से बड़े घमंडी को छोटा से छोटा कारण भी बर्बाद कर सकता है।

यह कहानी भी पढ़े: अंगूर खट्टे है

Loading...
Loading...

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here