टीचर कैसे बने? टीचर बनने के 5 आसान स्टेप्स हिंदी में

टीचर का हर किसी के जीवन में विशेष महत्त्व होता है। टीचर ही सृजनकर्ता होते है, छात्र का अस्तित्व बनाने में ये दिन-रात एक कर देते हैं। शिक्षक का प्रोफेशन काफी सम्मानित है।

छात्र बचपन से लेकर अपनी हर आयु में अपने शिक्षक के प्रति झुकाव महसूस करता है क्योंकि उसके वजूद को बनाने में शिक्षको की बहुत बड़ी भूमिका होती है।

यदि आप भी इस प्रोफेशन में अपना करियर बनाना चाहते है तो इसके लिए आपकी क्वालिफिकेशन हाई होनी चाहिए।

आज आपको इस आर्टिकल में इससे संबधी जानकारी शेयर करेगे, जिससे आपको इस क्षेत्र में जाने के लिए भरपूर मदद मिलेगी।

यह भी जानें: Police कैसे बने

टीचर बनने का पूरा तरीका

टीचर बनने का पूरा तरीका
टीचर बनने का पूरा तरीका

शिक्षक जीवन के हर कदम कदम पर आपको कुछ ना कुछ सिखाने का पूरा प्रयास करना होता है। टीचर के पास इतनी क्वालिटी आती कहा से है?

आपके मन में ये प्रश्न उठ रहा होगा? क्या इसके लिए इनको किसी भी प्रकार की ट्रेनिंग की आवश्यकता होती है? इसका जवाब हाँ है।

क्या अलग-अलग स्टैंडर्ड के हिसाब से पढ़ाने वाले टीचर अलग-अलग कोर्स करते हैं। इसका जवाब भी हाँ है।

इस ब्लॉग के जरिए आप जानेंगे कि स्कूल टीचर कैसे बने? टीचर बनने के लिए आपको कौन-सा कोर्स करना होगा?

इसके बारे में हम आपको इस पोस्ट में सब कुछ बताने वाले है।

यह भी जानें: DM कैसे बने

टीचर बनने के लिए 12 पास करे

स्कूल के टीचर यह फिर कॉलेज स्तर के टीचर दोनो ही दशा में आपको 12वी पास करना अनिवार्य है। अब आप सोच रहे होगे कि 12वी में किन विषयों को लेकर पढ़ाई करनी चाहिए,

तो हम आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए बता दे कि आपको 10 वी पास करने के बाद वही विषयो को सिलेक्ट करे।

जिस विषय को आप स्कूल में बतौर टीचर बनकर पढ़ाने के इच्छुक हो। मान लीजिए आप इंग्लिश सब्जेक्ट को पढ़ना चाहते है। तो ऐसे में आपको स्कूल में 11 वी में इंग्लिश सब्जेक्ट को सिलेक्ट करना होगा। इसी के मुताबिक आपको अपने विषय को सिलेक्ट करना होगा।

आपने द्वारा सिलेक्टेड सब्जेक्ट पर फोकस करें

जैसा की आपको बखूबी पता होगा कि किसी विषय से संबंधित टीचर को अपने सब्जेक्ट की अच्छे से जानकारी होती है।

उसे अपने सब्जेक्ट को पढ़ाने में महारत हासिल होनी चाहिए, इसलिए आपको जिस विषय से संबंधित टीचर बनना है। उस विषय पर सबसे अधिक फोकस करने की जरूरत होती है।

अपने सब्जेक्ट को आप जितना स्ट्रांग बनाए रखेंगे। उतने ही अच्छे से बच्चों को पढ़ा और समझा सकेगे, और एक अच्छे टीचर की यह सबसे बड़ी विशेषता होती है।

ग्रेजुएशन पूरा करें

एक स्कूल टीचर बनने के लिए शिक्षक की प्रारंभिक एजुकेशन 12वीं पास आउट  है। 12 वी की परीक्षा के निकलने के बाद आपको ग्रेजुएशन के लिए अप्लाई करना चाहिए।

वहीं ग्रेजुएशन में आपको उन विषयों को सेलेक्ट करना चाहिए, जिन विषयों में आपकी विशेष रुचि हो और शिक्षक के रूप में भी आप वही विषयों को पढ़ाने के इच्छुक होंगे।

इस डिसीजन से आपको विशेष लाभ होगा। लेकिन एक बात आपको विशेष तौर पर पता होनी चाहिए कि बगैर ग्रेजुएशन के आप स्कूल टीचर की आगे की पढ़ाई को कंप्लीट नहीं कर सकते है।

शिक्षक बनने के लिए B.Ed कोर्स करें

ग्रेजुएट हो जाने के बाद आपको स्कूल टीचर बनने के लिए B.Ed कोर्स के लिए अप्लाई करना होता है। लेकिन इस दौरान आपको पता होना चाहिए कि आपको ग्रेजुएशन में कम से कम 50% हो।

बीएड की पढ़ाई कंप्लीट करने के बाद आप सीनियर सेकेंडरी स्कूल में एक टीचर की पोस्ट पर कार्य कर सकते हैं। वर्तमान समय में B.Ed कोर्स की अवधि बढ़ा दी गई है। पहले यह कोर्स केवल 1 साल का होता था लेकिन अब इस कोर्स को पूरा करने में आपको 2 वर्ष लगेंगे।

TET या CTET एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करे

बहुत से लोगों को लगता है कि B.Ed कोर्स को पूरा कर लेने के बाद वह पूर्ण रुप से शिक्षक बनने योग्य है। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है।

B.Ed कर लेने के बाद, अब आपको एक और एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होता है। जिससे हम टेट (TET) के नाम से जानते हैं।

इसके अतिरिक्त एक और कोर्स क्लियर करके आप टीचिंग के क्षेत्र में अपने पैर जमा सकते हैं। वह है  सीटेट (CTET), इन दोनों को क्लियर कर लेने के बाद आप टीचिंग के लिए किसी भी स्कूल में ट्राई कर सकते हैं।

आपके मार्क्स और परसेंटेज के मुताबिक कट ऑफ निकाला जाता है। इसी के आधार पर आपको किसी स्कूल में बतौर टीचर की पोस्ट मिलती है।

अब तक तो आप समझ गए होगे कि टीचर बनने के लिए आपको क्या कुछ करना पड़ता है।

यह भी जानें: बैंक मैनेजर कैसे बने

भारत के शिक्षक की सैलरी

भारत के शिक्षक की मासिक सैलरी 24,100 रुपए तक है। शुरुआती सैलरी 11,800 से लेकर 37,700 रुपए के आस पास है। सैलरी के अलावा अन्य भी बेनिफिट्स टीचर को प्रदान किए जाते है जैसे ट्रांसपोर्ट सर्विस।

यह शिक्षक के Experience, Skill, लिंग के साथ लोकेशन के आधार पर अलग अलग होती है।

इस ब्लॉग के जरिए आपको टीचिंग से सम्बंधित सभी जरुरी जानकारी बता दी गई है। टीचर का बहुत बड़ा योगदान हम सब पर होता है। यहां तक की देश की प्रगति भी बगैर शिक्षक की पूरी नहीं हो सकती है, ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जो टीचर से अछूता रह गया हो।

यह भी जानें: IPS अफसर कैसे बने

Previous articleIPS officer कैसे बने? आईपीएस ऑफिसर बनने का पूरा तरीका
Next articleScientist बनने की पूरी जानकारी हिंदी में | How to become a scientist in hindi
आपका hindikahane.in पर स्वागत है। हम hindikahane.in पर हिंदी कहानी लिखते है। हमे हिंदी स्टोरी लिखना बहुत ही पसंद है। हम हिंदी स्टोरी के साथ ही और तरह की जानकारी भी हिंदी में देते है। आप हमें ईमेल कर सकते है। हमारे ईमेल id: [email protected] है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here